मध्यप्रदेशराष्ट्रीय / अंतर्राष्ट्रीय

seekho kamao yojna:मध्यप्रदेश के युवाओं को बड़ी खुशखबरी मिलेगे 8000 रूपये महीने

seekho kamao yojna:सीखो कमाओ योजना को लेकर आई बड़ी खबर

 

 

 

 

seekho kamao yojna:मध्यप्रदेश के युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है.विधानसभा चुनाव से पहले शुरू की गई (seekho kamao yojna)सीखो कमाओ योजना के तहत प्रदेश के युवाओं को ₹8000 महीने मिल रहे थे. लेकिन आचार संहिता और नई सरकार के गठन के चलते सीखो कमाओ योजना की राशि युवाओं के बैंक खाते में ट्रांसफर नहीं हो रहे थे. इस योजना को लेकर नए साल में बड़ी खबर सामने आई है.1 जनवरी 2024 से सीखो कमाओ योजना में चयनित युवाओं को मध्यप्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए ऐप में अटेंडेंस दर्ज करवाना जरूरी हो गया है. वहीं पर संस्थाओं को भी दिशा निर्देश जारी किए गए हैं.

 

sikho kamao yojna in mp
sikho kamao yojna in mp

(seekho kamao yojna)दोबारा खोला गया पोर्टल

मध्यप्रदेश के युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए (seekho kamao yojna)सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत लाभार्थी युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है.जानकारी के मुताबिक योजना के लिए दोबारा पोर्टल शुरू कर दिया हैं.विधानसभा चुनाव के आचार संहिता के चलते अनुबंध प्रक्रिया को रोका गया था.अनुबंध जारी करने का काम तेजी से हो रहा है. जिससे प्रदेश के बड़ी संख्या में युवा लाभान्वित होंगे. बता दें कि मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना की शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की थी.

 

सीखो कमाओ योजना में पात्रता

सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत मध्य प्रदेश का निवासी होना अनिवार्य है. 18 से 29 वर्ष तक के आयु के युवाओं का चयन इस योजना में किया जाएगा. इसके साथ निवास प्रमाण पत्र होना आवश्यक है. युवाओं के योग्यता के अनुसार ही स्टाइपेड दिया जा सकेगा.

 

केवल 15000 युवाओं को मिला काम

पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा शुरू हो गई मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना में काम सभी को नहीं मिल रहा है.जून 2023 में शुरू हुई योजना में अब तक 9.20 लाख युवाओं ने रजिस्ट्रेशन कराया. वहीं पर करीब 20000 कंपनियों ने 78000 पद निकाले इसके बावजूद अब तक 15000 युवाओं को ही काम मिला है.

Rewa news:रीवा में पति-पत्नी ने मिलकर नाबालिक को काम दिलाने के बहाने बनाया एक रात की दुल्हन

Leave a Reply

Related Articles

Close

Adblock Detected

Please disable the adblocker. It is the only source of our earnings.