Tech

Smartphone policy:पुराने फोन होंगे रद्दी! बिना इंटरनेट के देख पाएंगे लाइव टीवी

Smart phone policy:स्मार्टफोन पर सरकार की नई पॉलिसी बिना इंटरनेट देख पाएंगे लाइव टीवी!

 

 

 

 

Smart phone policy:मोबाइल पर बिना इंटरनेट के लाइव टीवी दिखाने के लिए सरकार नई पॉलिसी लेकर आ रही है.जिसके कारण स्मार्टफोन की कंपनियां बहुत ज्यादा खुश नहीं है.जिसमें आइडिया सैमसंग जैसी कंपनियां खुश नहीं है. स्मार्टफोन पर सरकार की नई पॉलिसी से फोन की कीमत मे बढ़ोतरी हो जाएगी. जिसमें आपको स्मार्टफोन खरीदने के लिए ₹2500 से ज्यादा खर्च करने पड़ सकते हैं.

 

स्मार्टफोन पर सरकार की पॉलिसी

केंद्र सरकार स्मार्टफोन पर नई पॉलिसी लाने की तैयारी में है.जिसमें स्मार्टफोन पर बिना इंटरनेट के लाइव टीवी देख सकते हैं. लाइव टीवी के लिए स्मार्टफोंस पर हार्डवेयर अपग्रेड किया जाएगा. फोन मार्केट में आने के बाद आप बिना इंटरनेट के स्मार्टफोन पर लाइव टीवी चला पाएंगे. हालांकि सैमसंग आइडिया जैसी कंपनी सरकार इस फैसले से खुश नहीं है. इस फोन के मार्केट में आने से मौजूदा फोंस की कीमत की तुलना में 2500 रुपए ज्यादा चुकाने होंगे. इसके लिए सरकार को स्मार्टफोन के लिए हार्डवेयर बनाने पड़ेंगे.

smartphone
smartphone

 

फोन कंपनियों ने सरकार को लिखा पत्र

सैमसंग,आइडिया, नोकिया, एरिक्सन जैसी फोन कंपनियों ने भारत के दूर संचार मंत्रालय को पत्र लिखा है. जिसमें कहा गया है कि डायरेक्ट टू मोबाइल प्रसारण शामिल करने पर बैटरी पर असर पड़ सकता है. भारत की प्रमुख फोंस कंपनियां सरकार के प्रस्तावित विचार का विरोध कर रही हैं.

 

केंद्र सरकार क्यों ले रही है फैसला

केंद्र सरकार ने स्मार्टफोन पर लोगों द्वारा बड़ी मात्रा में वीडियो देखने और दूरसंचार नेटवर्क के लोड को कम करने के लिए बिना इंटरनेट के फोंस मार्केट में लाने की योजना बना रही है. जिससे दूर संचार नेटवर्क पर भार कम हो सके. हालांकि सरकार द्वारा अभी स्पष्ट नहीं किया गया है कि बिना इंटरनेट के लाइव वीडियो देखने वाली स्मार्टफोन भारत में कब तक में आएंगे. इसको लेकर संशय से लगातार बना हुआ है.

Diwali offer:दिवाली पर पाएं VIVO के सस्ते फोन 10000 का मिलेगा कैशबैक!

 

Diwali 2023:साल 2023 में किस दिन है दिवाली जानिए शुभ मुहूर्त का समय

Leave a Reply

Related Articles

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please disable the adblocker. It is the only source of our earnings.